Braj ki Holi

Braj ki Holi : सारी दुनियां से अनोखी होली – ब्रज की होली 2024

ब्रज की होली Braj ki Holi ऐसी होली जो आपके तन मन को रंग, आनंद और भक्ति से पूरा रंगीन कर देती है, होली का उत्सव तो आपने बहुत देखा होगा और होली भी खूब खेली होगी लेकिन ब्रज की होली जैसी होली का आनंद लेते हुए और भगवान श्री कृष्ण और राधारानी के प्रेम में रंगे हुए लोग आपको सिर्फ ब्रज की होली में ही देखने को मिलेंगे |

ब्रज की होली दुनिया की सबसे प्रसिद्ध होली है जो कि पूरी ब्रजभूमि में बड़े धूमधाम के साथ मनाई जाती है| ब्रज की होली और राधाकृष्ण की भक्ति में रंग जाने और ब्रज की होली का उत्सव देखने के लिए लोग दूर दूर से पुरे ब्रजधाम में घूमते हुए होली का आनंद उठाते हैं |

Braj ki Holi

ब्रज की होली Braj ki Holi नही ये है रंगों का हुरंगा

ब्रज की होली के रंगों की चंचल फुआर ब्रज के सभी मंदिर, घरों, सड़को अथवा लोगो के दिलों को ख़ुशी और उत्साह से भर देती है, ब्रजभूमि की रंगीन हवा और भक्तों के मुख से होली और राधे राधे नाम का बजता हुआ संगीत लोगों के मन मैं आनंद उत्पन्न करता है|

मौज मस्ती करते युवा, वृद्ध व् महिलाएं एक दुसरे पर रंग छिड़कते हुए पारंपरिक गुलाल से लेकर अधिक आधुनिक पानी की बंदूकें और रंगीन पानी से भरे गुब्बारों का लुत्फ़ उठाते हुए रंगों से सराबोर करने की सदियों पुरानी परंपरा ब्रज की होली का जी भर के आनंद उठाते हैं |

ब्रज की होली को धूम धाम से मानाने वाले प्रमुख प्रसिद्द स्थान

ब्रज की होली Braj ki Holi वैसे तो पुरे ब्रजधाम में बड़े धूम धाम से मनायी जाती है लेकिन ब्रजभूमि के कुछ प्रमुख स्थान हैं जहाँ पर होली देखने वाले और खेलने वाले भक्तो भीड़ उमड़ जाती हैं और भारी संख्या में लोग वहां पर जमा हो जाते हैं| प्रमुख स्थान कुछ इस प्रकार है|

बरसना, नंदगाँव, वृन्दावन , मथुरा , गोकुल , दाउजी , गोवेर्धन इन सभी प्रमुख स्थानों पर ब्रज की होली बड़े हर्सौल्ल्हस के साथ मनाई जाती है, और सभी स्थानों में बरसना और नंदगाँव की होली सबसे प्रसिद्द होली है|

Braj ki Holi

बरसाना नंदगाँव की लठमार होली

ब्रजभूमि में मनाई जाने वाली होली में सबसे प्रसिद्ध और प्राचीन होली है लठमार होली, लठमार होली बरसाना और नंदगाँव में बड़े धूम धाम के साथ मनाई जाती है, जैसा की आप जानते हैं बरसाना श्री राधारानी जी का गाँव था और नंदगाँव भगवान श्री कृष्ण का |

ऐसा माना जाता है की भगवान कृष्ण अपने मित्र ग्वालों के साथ नंदगाँव से होली खेलने के लिए बरसाना आया करते थे, जब कृष्ण बरसाना में राधारानी और उनकी सखियों के साथ होली खलते थे तो वो उन्हें डंडे और लाठियों से उनके साथ में होली खेलते थे |

लठमार होली की परंपरा सदियों से आज तक इसी प्रकार चली आ रही हैं, आज भी नंदगाँव के लोग बरसाना होली खेलने आते हैं और बरसाना की महिलाये नंदगाँव से होली खेलने आये ग्वालों का स्वागत उसी पर करती हैं  जैसे भगवन कृष्ण और उनके मित्र ग्वालो का किया जाता था |

नंदगाँव से ब्रज की होली Braj ki Holi खेलने आये ग्वालो के पास अपना एक सुरक्षा कवच जैसा होता है अपनी रक्षा करने के लिए ताकि जब बरसाना की सखियाँ उन पर लाठियों से प्रहार कर के लठमार होली की परंपरा को आगे बढ़ाये तब ग्वालों को कोई चोट ना लग जाये| इस प्रकार बरसाना की लठमार होली का सभी आनंद उठाते हैं |

Braj ki Holi

ब्रज की होली का आध्यात्मिक महत्व

ब्रज की होली पौराणिक कथाओं और आध्यात्मिकता में गहराई से निहित है और शरारत के प्रतिक भगवान श्री कृष्ण और उनकी प्यारी श्री राधा गोपियाँ और ग्वालों के साथ होली का दिव्य खेल खेला था| ब्रज की होली के दौरान कृष्ण की चंचल हरकतें, अवं राधा के प्रति उनके प्रेम को दर्शाता है |

ब्रज की होली Braj ki Holi सिर्फ रंगों के बारे में नहीं है, यह अनुष्ठानों, परंपराओं और सांस्कृतिक प्रदर्शनों से बुनी गई एक कलाकृति है जो क्षेत्र की समृद्ध विरासत के सार को दर्शाती है। बरसाना और नंदगांव में लट्ठमार होली के साथ उत्सव की शुरुआत होती है| बलदेव में दाऊजी मंदिर फूलों की होली की मेजबानी करता है, जहां फूल रंगों की जगह लेते हैं, जो ब्रज की होली के उत्सव को एक सुगंधित माहोल में बदल देते हैं।

ब्रज की होली पर बनाये जाने वाले पकवानों का तो कहना ही क्या

हमारे देश भारत में कोई भी त्यौहार पारंपरिक व्यंजनों के शानदार प्रसार के बिना कभी पूरा नहीं होता है, और Braj ki Holi ब्रज की होली भी स्वादिष्ट पकवान जैसे गुझिया, मालपुआ और ठंडाई मिठाइयों से लेकर पकौड़े और चाट जैसे नमकीन और हर घर में बनायीं गयी कचोरी और भजिया, होली के त्यौहार का आनंद और बढ़ा देते हैं |

ब्रज की होली खेलने के लिए ब्रज के ग्वाल जब बाहर निकलते हैं तो सड़कों पर तरह-तरह के व्यंजन पेश करने वाले स्टालों की भरमार होती है, जो स्थानीय लोगों और पर्यटकों को लजीज व्यंजनों का आनंद लेने के लिए समान रूप से आमंत्रित करते हैं। ब्रज के ग्वाले भी इसका खूब आनंद उठाते हैं|

सामुदायिक और पारिवारिक जुड़ाव

ब्रज की होली के सबसे खूबसूरत पहलुओं में से एक सामुदायिक भावना और सौहार्द को बढ़ावा देने की इसकी क्षमता है। जाति, पंथ या सामाजिक स्थिति के बावजूद, हर कोई जीवन और प्रेम के उत्सव में समान भागीदार बनता है।

पड़ोसी एक-दूसरे के लिए अपने दरवाजे खोलते हैं और एक दुशरे को रंग गुलाल लगाकर होली की खुशियाँ बांटते हुए एक दुशरे को शुभकामनाएं देते हैं, सभी परिवार एक साथ आते हैं और अपने भाईचारे और एकता की भावना को ब्रज के होली के साथ और मज़बूत बनाते हैं |

ब्रज की होली Braj ki Holi सिर्फ एक त्योहार नही है ये उससे से कहीं अधिक है, यह एक सांस्कृतिक उत्सव है जो प्रेम, मित्रता और एकजुटता के शाश्वत मूल्यों का जश्न मनाता है। जैसे ही रंग फीका पड़ जाता है और हँसी की गूँज कम हो जाती है, तो जो बचता है वह है आनंद और सद्भाव की अमिट छाप जो ब्रज की होली आत्मा पर छोड़ जाती है।

तो, आइए हम सब भी इस जीवंत त्योहार की भावना में डूब जाएं, रंगों, संस्कृति और परंपराओं को अपनाएं जो इसे वास्तव में अविस्मरणीय अनुभव बनाते हैं। आप सभी को Braj ki Holi होली की ढेर सारी शुभकामनाएं और कान्हाजी आपके जीवन को खुशियों के रंगों से भर दे |

| राधे राधे |

Related Post

Govardhan To Barsana Distance and Fare Details 2024

Mathura To Goverdhan Distance: 2023

Vrindavan To Barsana Distance And Fare – Latest Details 2023

Mathura Junction to Prem Mandir Distance

मथुरा जंक्शन से प्रेम मंदिर की दूरी

Prem Mandir to Banke Bihari Temple distance

Mathura to Goverdhan distance

Gokul to barsana distance

Gokul To Barsana Distance And Fare Details – 2024

Gokul to Barsana distance is about 55 km and it may take about 1.5 hours to reach Barsana from Gokul. To reach Barsana, you can take a private vehicle from Gokul or reach Mathura through public transport then you can go to Barsana from Mathura.

As you all know, Gokul is the place where Lord Shri Krishna spent his childhood with Mother Yashoda and then he went to Nandgaon with Nand Baba. Near Nandgaon, Shri Radharani ji’s house and her famous temple Radharani Temple which is located in Barsana.

Gokul to Barsana distance and Fare Details

To reach Barsana from Gokul, you can take a private auto or taxi from Gokul whose fare can be around Rs 1000 to Rs 1200 and if you want to go through public transport, then reach Mathura from Gokul and then from Mathura you will reach Barsana in around Rs 200 only.

To reach Barsana from Mathura, you can reach Barsana via National Highway 19 or via Goverdhan, whichever suits you, you can go to Barsana from Mathura.

Gokul to barsana distance

Barsana to Gokul distance and Fare Details

The distance from Barsana to Gokul is the same as mentioned above, it is about 55 km and it may take 1.5 hours, to reach Gokul from Barsana, you can go from Goverdhan to Mathura and from Mathura to Gokul via Goverdhan.

Or you can reach Gokul from Barsana via Chhata and from Chhata via Mathura. In this, your fare will again be the same as was spent in taking you from Gokul to Barsana.

We hope that the information given by us about Gokul to barsana distance would have helped you a bit and this post would have been of some use to you in planning your journey. We pray to Radha Rani that your journey be auspicious and Kanhaji fulfills all your wishes.

राधे राधे🙏

Related Post

Mathura Junction to Prem Mandir Distance

मथुरा जंक्शन से प्रेम मंदिर की दूरी

Prem Mandir to Banke Bihari Temple distance

Mathura to barsana distance

Mathura to Goverdhan distance

govardhan to barsana distance

Govardhan To Barsana Distance and Fare Details 2024

Govardhan to Barsana distance is about 20 km and this distance can be covered in about 30 minutes, although there are many routes to reach Barsana here we are talking about how to go from Goverdhan to Barsana and what the distance, so from Goverdhan is a direct road to Barsana through which you can reach Barsana.

Govardhan to Barsana distance and fare

As we have told earlier the distance from Goverdhan to Barsana is around 20 km and it takes 30 minutes, if you are free after circumambulating Goverdhan and visiting the temples of Goverdhan, then you can reach Barsana by vehicle. One can easily visit the temple of Radharani.

To go from Goverdhan to Barsana, you will get a bus to Barsana from the Goverdhan bus stand. You can reach Barsana by sitting in a bus or you can take a private rickshaw or auto, for about 30 rupees on the bus and 300 to 400 rupees on a private vehicle.

govardhan to barsana distance

Major places to visit and visit in Barsana

After visiting the main temple of Barsana, Shri Radharani Temple, you can also take advantage of visiting the major temples of Barsana like the famous temple Kirti Mandir, Daan Ghar, Ghevar Van, or you can also visit other temples. And you can enjoy the streets of Barsana.

We hope that the information given about govardhan to barsana distance or fare and transportation to the temples will have helped you in your journey and we pray to Shri Radha Rani that she fulfills all your wishes.

राधे राधे

Related Post

Mathura Junction to Prem Mandir Distance

मथुरा जंक्शन से प्रेम मंदिर की दूरी

Prem Mandir to Banke Bihari Temple distance

Mathura to barsana distance

Mathura to Goverdhan distance

मथुरा से अयोध्या राम मंदिर कैसे जायें – दूरी अथवा किराये की नवीन जानकारी – 2024

Barsana To Prem Mandir Distance : Latest Update 2024

barsana to prem mandir distance

Barsana To Prem Mandir Distance : Latest Update 2024

Barsana to Prem mandir distance is approximately 42 km and it may take 1 hour to cover this distance. There are two routes to reach Prem Mandir Vrindavan from Barsana, one is from Barsana via Goverdhan and the other route is via Chhata. You can reach Vrindavan Prem Mandir from Chhatikara via National Highway 19.

It is about 22 km from Chhata to Chhatikara and via the very beautiful road National Highway 19, you will reach Prem Mandir in 1 hour. If you want to go to Prem Mandir via Goverdhan, then you will reach Prem Mandir Vrindavan via Barsana via Goverdhan Road and from Goverdhan to Chhatikra.

Barsana to prem mandir distance and fare

The fare from Barsana to Vrindavan depends on how you want to reach Prem Mandir Vrindavan, if you travel by public transport you will reach Prem Mandir Vrindavan from Barsana for around Rs 70. If you book a private e-rickshaw, auto, or taxi, the fare can range from as low as Rs 500 to Rs 1200.

If you are traveling by public transport or government buses then the fare can be something like this, from Barsana to Chhata Rs. 25/- and from Chatta to Chhatikara Rs. 30/- and from Chhatikara to Prem Mandir Vrindavan Rs 15, in this way you will reach Prem Mandir from Barsana in only Rs. 70/-.

The road from Barsana to Vrindavan is very beautiful and well maintained, on which you will not have to face any problems while traveling. We hope that the information barsana to prem mandir distance given by us has given you the correct information about the distance and fare from Barsana to Prem Mandir Vrindavan.

barsana to prem mandir distance

After reaching Vrindavan, apart from Prem Mandir, you must take advantage of visiting the major temples of Vrindavan like Shri Banke Bihari Temple, Radhaballabh Temple, Nidhivan, Iskcon, Vaishnodevi Temple, other major temples and Yamuna Maharani.

We hope that your journey is successful and that Radha Rani takes away all your sorrows.

राधे राधे🙏

Related Post

Mathura Junction to Prem Mandir Distance

मथुरा जंक्शन से प्रेम मंदिर की दूरी

Prem Mandir to Banke Bihari Temple distance

Mathura to barsana distance

Mathura to Goverdhan distance

delhi to barsana distance

2 Better Options To Cover Delhi To Barsana Distance

The distance from Delhi to Barsana distance is approximately 160 km and there are two major routes to reach Barsana from Delhi through which you can reach Barsana. Below we have explained in detail about both the routes, you can understand by reading them.

delhi to barsana distance

Delhi to Barsana Distance and Fare

The first route is National Highway 19 through which you will reach Chhata from Delhi via Faridabad and after taking a right-hand turn from Chhata, there is a road to Barsana which goes straight to Barsana. The distance from Delhi to Barsana via this route is around 154 km.

The second route is Yamuna Expressway to covers the Delhi to Barsana distance, through this route also you will reach Barsana and this route can be very convenient for travelers coming from Noida, on this route you will get Bajna Cut before Mathura, get down from there and go straight from the right-hand side. We will reach Shergarh via Naujeel.

From Shergarh there is a direct road to Chhata and then from Chhata to Barsana, the same road is available from National Highway 19. And by coming via this route the distance can be around 170 km.

It may take around 150 to 200 rupees to reach Barsana from Delhi by bus. There are many buses from Delhi to Mathura and Agra. You can reach Chhata by boarding those buses and from there you can reach Barsana by catching a local bus or auto.

Kosi kalan to barsana distance

Kosi Kalan to Barsana distance is about 20 km and you can complete this distance in 30 to 40 minutes. To reach Kosi Kalan Railway Station, many trains will be available from Delhi’s Hazrat Nizamuddin and New Delhi Railway Stations through which you can reach Kosi.

The distance from Hazrat Nizamuddin Railway Station to Kosi Kalan is about 90 km and it may take 2 hours. As soon as you come out of Kosi Railway Station, you will get shared autos by which you will reach Barsana in about 40 minutes and its fare Could be 30 to 40 rupees.

We hope that your journey is successful and that Radha Rani takes away all your sorrows.

Radhe Radhe🙏

Related Post:-

Mathura Junction to Prem Mandir Distance

मथुरा जंक्शन से प्रेम मंदिर की दूरी

Prem Mandir to Banke Bihari Temple distance

Mathura to barsana distance

Mathura to Goverdhan distance